ब्रोम्सग्रोव कंपनी स्कूलों को वेपिंग डिटेक्शन डिवाइस प्रदान करती है

यह आलेख मूल रूप से ब्रॉम्सग्रोव स्टैंडर्ड यूके पर प्रकाशित हुआ था। मूल लेख देखने के लिए, यहां क्लिक करे

ब्रॉम्सग्रोव कंपनी Ecl-ips यूके में एक डिटेक्शन डिवाइस पेश करने वाली पहली कंपनी बन गई है, जो वेपिंग से निपटने के इच्छुक स्कूलों की मदद कर सकती है।

पिछले कुछ महीनों में कई स्कूल सम्मेलनों में Ecl-ips द्वारा HALO स्मार्ट सेंसर का प्रदर्शन किया गया था।

सेंसर के पास किसी भी नए ईसीएल-आईपीएस उत्पाद के बारे में स्कूलों से सबसे अधिक पूछताछ थी।

अमेरिकी बाजार में यह पहले ही साबित हो चुका है, जहां युवाओं के बीच 'महामारी' फैल गई है।

HALO स्मार्ट सेंसर में असामान्य ध्वनि का पता लगाने सहित अन्य विशेषताएं हैं, जिसका अर्थ है कि यह छात्रों के आक्रामक व्यवहार को पकड़ सकता है, जिससे शिक्षक झगड़े और बदमाशी पर काबू पा सकते हैं।

यूके में वेपिंग को एक सुरक्षित तंबाकू विकल्प के रूप में प्रचारित किया गया है, लेकिन इस बात के प्रमाण हैं कि सोशल मीडिया के कारण युवा लोग वेपिंग के प्रति अधिक आकर्षित हो सकते हैं।

 

पिछले साल ऑस्ट्रेलिया की क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के एक अध्ययन में पाया गया कि जनवरी 63 और नवंबर 2019 के बीच टिकटॉक पर पोस्ट किए गए 2020 प्रतिशत वीडियो में वेपिंग को सकारात्मक रूप से चित्रित किया गया है।

इन वीडियो को अब तक 1.1 अरब बार देखा जा चुका है।

ब्रिटिश चैरिटी एक्शन ऑन स्मोकिंग एंड हेल्थ (एएसएच) के शोध से पता चला है कि उत्पाद की पैकेजिंग और बबल गम जैसे 'कैंडी' वेपिंग फ्लेवर ने उन्हें युवा लोगों के लिए अधिक आकर्षक बना दिया है।